Subscribe Us

header ads

Bewafa Shayari In Hindi

Best Shayari in hindi, English, Whatsapp status, Love Shayari, Best Love Status, Sad Shayari, Funny Shayari, Attitude Shayari, Bewafa Shayari, Birthday Shayari, Broken Heart Shayari, Comedy Shayari,Friendship Shayari, Good Morning Shayari, Maut Shayari, Romantic Shayari, Sharab Shayari.

Bewafa Shayari In Hindi


This type of shayari arises when lover breaks the faith of a love. We are providing large collection of latest shayari on bewafa. Read the best collection of bewafa shayari,
disloyalty poetry, bewafa shayari in hindi, bewafa status & sms. You can share these bewafa shayari with your girlfriend/boyfriend in sms form or you can set it as facebook or whatsapp status.

Bewafa Shayari, Ban Ke Bewafa Mili
Woh Mili Bhi To Kya Mili Ban Ke Bewafa Mili,
Itane To Mere Gunah Na The Jitni Mujhe Saja Milei.

वो मिली भी तो क्या मिली बन के बेवफा मिली,
इतने तो मेरे गुनाह ना थे जितनी मुझे सजा मिली।

Bahut Ajeeb Hain Ye Mohabbat Karne Wale,
Bewafai Karo To Rote Hain Aur Wafa Karo To Rulate Hain.

बहुत अजीब हैं ये मोहब्बत करने वाले,
बेवफाई करो तो रोते हैं और वफा करो तो रुलाते हैं।

Bewafa Na Kah Saka
Yun To Hai Sabkuch Mere Pas Bas Dva-E-Dil Nahi,
Door Vo Mujhse Hai Par Main Us Se Naraaj Nahin,
Maloom Hai Ab Bhi Mohabbat Karta Hai Vo Mujhse,
Vo Thoda Sa Jiddi Hai Lekin Bevafa Nahin.

यूँ है सबकुछ मेरे पास बस दवा-ए-दिल नही,
दूर वो मुझसे है पर मैं उस से नाराज नहीं,
मालूम है अब भी मोहब्बत करता है वो मुझसे,
वो थोड़ा सा जिद्दी है लेकिन बेवफा नहीं।

Bewafa Shayari,Teri Bewafai
Meri Nigahon Mein Bahne Wale Ye Aawara Sa Ashq,
Poochh Rahe Hai.. Palkon Se Teri Bewafai Ki Bajah.

मेरी निगाहों में बहने वाला ये आवारा से अश्क
पूछ रहे है पलकों से तेरी बेवफाई की वजह।


Rushwa Kyu Karte Ho Tum Ishq Ko, Ai Duniya Walo,
Mehboob Tumhara Bewafa Hai, To Ishq Ka Kya Gunah.

रुशवा क्यों करते हो तुम इश्क़ को, ए दुनिया वालो,
मेहबूब तुम्हारा बेवफा है, तो इश्क़ का क्या गनाह।

Bewafai Ki Intehaan
Kya Jano Tum Bewafai Ki Had Dosto,
Wo Hamse Ishq Seekhti Rahi Kisi Or Ke Liye.

क्या जानो तुम बेवफाई की हद दोस्तों,
वो हमसे इश्क सीखती रही किसी ओर के लिए।

Hamaari Tabiyat Bhi Na Jaan Sake Hame Behal Dekhkar,
Aur Ham Kuchh Na Bata Sake Unhen Khushahal Dekhkar.

हमारी तबियत भी न जान सके हमे बेहाल देखकर,
और हम कुछ न बता सके उन्हें खुशहाल देखकर।

Bewafa Shayari, Bewafai Payi Hai
Mat Rakh Hamse Wafa Ki Ummeed Ai Sanam,
Hamne Har Dam Bewafai Payi Hai,
Mat Dhoondh Hamare Jism Pe Jakhm Ke Nishan,
Hamne Har Chot Dil Pe Khaayi Hai.

मत रख हमसे वफा की उम्मीद ऐ सनम,
हमने हर दम बेवफाई पायी है,
मत ढूंढ हमारे जिस्म पे जख्म के निशान,
हमने हर चोट दिल पे खायी है।

Bewafa Hai Yeh Duniya
Very Sad Bewafa Shayari

Unhen Ehsaas Hua Hai Ishq Ka Hame Rulane Ke Baad,
Ab Ham Par Pyar Aaya Hai Door Chale Jaane Ke Baad,
Kya Bataen Kis Kadar Bewafa Hai Yeh Duniya,
Yahan Log Bhool Jaate Hain Kisi Ko Dafanane Ke Baad.

उन्हें एहसास हुआ है इश्क़ का हमें रुलाने के बाद,
अब हम पर प्यार आया है दूर चले जाने के बाद,
क्या बताएं किस कदर बेवफ़ा है यह दुनिया,
यहाँ लोग भूल जाते हैं किसी को दफनाने के बाद।

Dil Mein Rahkar Bewafai
Bewafa Dost Shayari

Ai Dost Kabhi Zikr-E-Judai Na Karna,
Mere Bharose Ko Rusva Na Karna,
Dil Mein Tere Koyi Aur Bas Jaaye To Bata Dena,
Mere Dil Mein Rahkar Bewafai Na Karna.

ऐ दोस्त कभी ज़िक्र-ए-जुदाई न करना,
मेरे भरोसे को रुस्वा न करना,
दिल में तेरे कोई और बस जाये तो बता देना,
मेरे दिल में रहकर बेवफाई न करना।

Bewafaon Ki Mahfil
Bewafaon Ki Mahfil Lagegi Ai Dil-E-Jaana,
Aaj Zara Waqt Par Aana Mehmaan-E-Khaas Ho Tum.

बेवफ़ाओं की महफ़िल लगेगी ऐ दिल-ए-जाना,
आज ज़रा वक़्त पर आना मेहमान-ए-ख़ास हो तुम।

Bewafai Ka Mujhe... Jab Bhi Khayaal Aata Hai,
Ashq Rukhsaar Par Aankhon Se Nikal Jate Hain.

बेवफ़ाई का मुझे... जब भी ख़याल आता है,
अश्क़ रुख़सार पर आँखों से निकल जाते हैं।



Ai Mere Bewafa Sanam
Kahan Se Laaun Wo Shabd Jo Teri Tareef Ke Qabil Ho,
Kahan Se Laaun Wo Chand Jisme Teri Khoobasurti Shamil Ho,
Ai Mere Bewafa Sanam Ek Baar Bata De Mujhko,
Kahan Se Laaun Wo Kismat Jismen Tu Bas Mujhe Hansil Ho.

कहाँ से लाऊं वो शब्द जो तेरी तारीफ के क़ाबिल हो,
कहाँ से लाऊं वो चाँद जिसमें तेरी ख़ूबसूरती शामिल हो,
ए मेरे बेवफा सनम एक बार बता दे मुझकों,
कहाँ से लाऊं वो किस्मत जिसमें तू बस मुझे हांसिल हो।

Gam Nahin Unki Bewahai Ka
Kaash Ki Ham Unke Dil Pe Raaz Karte,
Jo Kal Tha Wahi Pyar Aaj Karte,
Hamen Gam Nahin Unki Bewahai Ka,
Bas Araman Tha Ki...
Ham Bhi Apne Pyar Par Naaz Karte.

काश कि हम उनके दिल पे राज़ करते,
जो कल था वही प्यार आज करते,
हमें ग़म नहीं उनकी बेवफाई का,
बस अरमां था कि...
हम भी अपने प्यार पर नाज़ करते।

Bewafa Batakar Aaye Hain
Aaj Hum Unhe Bewafa Batakar Aaye Hain,
Unke Khaton Ko Paani Mein Bahakar Aaye Hain,
Koi Nikal Kar Paadh Na Le Unhe,
Isliye Paani Mein Bhi Aag Lagaker Aaye Hain.

आज हम उनको बेवफा बताकर आए हैं,
उनके खतो को पानी में बहाकर आए हैं,
कोई निकाल न ले उन्हें पानी से..
इस लिए पानी में भी आग लगा कर आए हैं।


Bewafa Ka Naam Mila
Gahrayi Pyar Mein Ho To Bewafai Nahin Hoti,
Sachche Pyar Mein Kahin Tanhayi Nahin Hoti,
Magar Pyar Zara Sambhal Kar Karna Mere Dost,
Pyar Ke Zakhm Ki Koyi Dava Nahin Hoti.

गहराई प्यार में हो तो बेवफाई नहीं होती,
सच्चे प्यार में कहीं तन्हाई नहीं होती,
मगर प्यार ज़रा संभल कर करना मेरे दोस्त,
प्यार के ज़ख्म की कोई दवा नहीं होती।

Post a Comment

0 Comments